blogid : 7629 postid : 1194491

नौकरी करके कमाते थे 500 करोड़ रुपए, दिया अपने पद से इस्तीफा

Posted On: 23 Jun, 2016 में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

भारत में जहां कई कंपनियों का टर्नओवर 500 करोड़ रुपए से ज्यादा नहीं है वहां 48 साल का यह भारतीय व्यक्ति अकेले 500 करोड़ रुपए नौकरी करके कमाता है. यह बहुत बड़ी बिडंबना है कि भारत में ही 50 फीसदी से भी अधिक लोग 5000 हजार रुपए या उससे भी कम नौकरी करके कमाते हैं वहां निकेश अरोरा अकेले 500 करोड़ रुपए की जॉब करते हैं. इसमें कोई शक नहीं है कि निकेश अपनी मेहनत और लगन की बदौलत इस पद पर पहुंचे हैंं. हालांकि निकेश ने हाल में अपनी यह जॉब छोड़ दी.


file253


जो कंपनी निकेश को साल का इतना बड़ा पैकेज देती थी उसका नाम सॉफ्टबैंक है जो जापान की टेलीकॉम कंपनी है. निकेश ने बतौर प्रेसीडेंट अपने पद से इस्तीफा दिया है. आपको बदा दें निकेश इससे पहले गूगल में थे.


Read: एक क्रिकेटर ने दूसरे क्रिकेटर की बीवी के साथ ऐसे मचाई धूम


यह बात कम ही लोग जानते हैंं कि 500 करोड़ रुपए का पैकेज उठाने वाले निकेश दुनिया में सबसे ज्यादा सैलरी पैकेज पाने वाले कर्मचारियों में से एक हैं. उन्हें यह पैकेज मार्च 2016 को खत्म हुए फिस्कल ईयर के लिए दिया गया था. हाइयेस्ट पैकेज के नाम पर उन्होंने माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ सत्य नडेला, पेप्सिको की सीईओ इंद्रा नूरी को पीछे छोड़ दिया था.


nikesh arora


उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में जन्में निकेश ने आईआईटी-बीएचयू से इलेक्टॉनिक में बीटेक किया था. इसके बाद अमरीका के बॉस्टन विश्वविद्यालय से उन्होंंने एमबीए की डिग्री हासिल की.


निकेश अरोड़ा ने अपनी नौकरी की शुरुआत 1992 में की, तब वह फिडेलिटी इंवेस्मेंट में वाइस प्रेसिडेंट फाइनेस थे. इसके बाद वह 2001 में टीमोबाइल कंपनी से जुड़े. 3 साल तक इस कंपनी को सेवा देने के बाद 2004 में निकेश अरोड़ा ने गूगल की ओर रुख किया था…Next


read more:

इन फिल्मी सितारों की सैलरी जान रह जाएंगे हैरान

जानिए भारतीय क्रिकेट टीम के हर एक खिलाड़ी की सैलरी

नौकरी पाने के लिए 27 लाख में खुद को बेचा इस बेरोजगार ने



Tags:                   

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran