blogid : 7629 postid : 1184261

सांप के जहर पर ऐसे असर करता है मंत्र

Posted On: 31 May, 2016 Infotainment में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

गांव-कस्बों के रहन-सहन से अगर कभी आपका वास्ता पड़ा होगा तो शायद आप इस घटना के भी गवाह बने होंगे कि किसी को सांप ने काट लिया हो और फिर उसके उपचार के लिए किसी प्रशिक्षित डॉक्टर के पास ले जाने के बजाए झाड़-फूंक करने वाले ओझा या तांत्रिक के पास ले जाया गया हो. यह भी संभव हो कि ओझा ने अपने मंत्र के प्रभाव से सर्प का जहर उतार भी दिया हो. गांव और कस्बा ही नहीं बड़े-बड़े शहरों में भी ऐसे तांत्रिक मिल जाएंगे जो मंत्र की शक्ति से सर्प, बिच्छू आदि का जहर को उतारने का दावा करते हैं. इससे यह सवाल पैदा होता है कि क्या मंत्र की शक्ति से सांप का जहर उतारा जा सकता है?


6

इस प्रश्न का उत्तर जानने के लिए पहले सर्पों के बारे में यह जरूरी तथ्य जान लें. विश्वभर में  सर्पों की कुल 2600 प्रजातियां हैं  इनमें सिर्फ 270 ही ऐसी हैं, जो विषैली होती हैं. इनमें से भी सिर्फ 25 प्रजातियां ऐसी होती हैं, जिनके काटने से मनुष्य की मृत्यु होती है. अगर बात भारत की करें तो यहां करीब 270 सर्प की प्रजातियां पाई जाती हैं, इनमें से 60 के करीब प्रजातियों में विष पाया जाता है हालांकि इंसान की जान लेने में समर्थ विष मुख्य रूप से केवल 4 सांपों में ही पाया जाता है. ये सांप हैं कोबरा जिसे गेहुअन या नाग के नाम से जाना जाता है, करैत, रसैल वाईपर या दबौया और सॉ स्कैल्ड वाईपर.


दरअसल होता यह है कि आम आदमी जहरीले सांपों और विष रहित सांपों में फर्क नहीं कर पाता है.  सांप के काटने पर आदमी इतना भयभीत हो जाता है कि उसे कुछ सूझता ही नहीं. आम आदमी में सांप का भय इतना ज्यादा है कि विष रहित सांप के काटने पर भी उसे कोबरा नाग समझ लेता है.


ऐसे में उसे मानसिक रूप से आघात लगता है और वह मरणासन्न अवस्था में जा पहुंचता है. सांपों के प्रति प्रचलित इसी भय का लाभ उठाकर ओझा और बाबा लोगों को ठगते हैं. यही कारण है कि विष रहित सांप के काटने पर तो लोग ओझा के पास जाकर मनोवैज्ञानिक प्रभाव के कारण बच जाते हैं, लेकिन विषैले सांप के काटने पर मर जाते हैं. ऐसे में ओझा लोग यह कहते हैं कि आपने इसे हमारे पास लाने में बहुत देर कर दी. अगर आप थोड़ी देर पहले हमारे पास आ गये होते, तो यह जरूर बच जाता.

सांप काटने की दशा में यदि प्रभावित व्यक्ति को सांप झाड़ने वाले ओझाओं के पास जाने के बजाए यदि डॉक्टर के पास ले जाया जाए और एंटीवेनम लगवाया जाए, तो जहरीले सांप के काटने पर भी रोगी को बचाया जा सकता है…Next


read more:

बाथरूम से निकले 40 खतरनाक कोबरा सांप, ये है घटना की हैरान कर देने वाली सच्चाई

सांप की जासूसी ने पकड़वा दिया शातिर अपराधियों को!!

इन इंसानों के सामने सांपों का विष ख़त्म हो जाता है





Tags:         

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

1 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Ravi Kumar Mishra के द्वारा
July 2, 2017

Pata nahi ye kisne likha hai ki Mantra se saap ka jahar nahi utarta. Lagta hai in logo ne science ki kuch jyada padhai kar rakhi hai.. Har kisi ko apne field me jyada jaankari hoti hai isliye wo kewal uski baaten hi karta hai or aisa tathya saamne rakhta hai ki uski baat hi sach ho By the way my dear friend agar kavi mantra ki shakti jaan na chaaho to mere papa se jarur milna- maine achhe achhe science ke gyataon or doctors ko unke saamne ghutne tekte dekha hai.. wo kisi v aadmi ko bata sakte hai ki use kis saap ne kata hai or saap ne kata hai ya nahi.. filhal to mai gao me rehne laga hu computer institute chalata hu. lekin jab mai jamshedpur me rehta tha to bilkul tumhari tarah hi kewal science ki or ligical baaten karta tha, kyonki mai mantra ki shakti ko dekha ya samjha nahi tha…. aap v samajh jaoge pehle theoretical lekh likhna or andaza lagana band karo or sahi jagah aa kar to dekho mere bhai log. Address Not kar lo…… Vill – Bharehta, Ps- Kachhwan, dist- Rohtas, Bihar-821309 Koi v aisa aadmi mile jo is jagah ko mantra jaanta hai uske baat sun kar hi tumhari mithya dur ho jayegi jispe kewal science or scientist ki mohar lagi hai…. Mantra ki duniya science se kahi jyada aage hai.. lekin iske jaankar log kuch kam hai jiske chalte galat logo ka example leke tumhare jaise log puri mantra shakti or jaankaro ka majaq udate hai…. Filhaal mera number hai – 9122340230


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran