blogid : 7629 postid : 1123075

भ्रष्टाचारियों को पकड़ने के लिए ऐसे काम आता है यह नोट

Posted On: 16 Dec, 2015 Others में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

भ्रष्टाचार रूपी महादानव से निपटने के लिए लोगों ने कई अभियान छेड़ा है. इसी तरह का एक अभियान तमिलनाडु में भी चल रहा है. तमिलनाडु में भ्रष्टाचार के खिलाफ पिछले 9 सालों से एक अनोखी पहल चल रही है. इस पहल से यहां चौकाने वाले परिणाम सामने आए हैं. इस अनोखी पहल के चलते यहां के अधिकारी रिश्वत लेने के बारे में सोचते तक नहीं है.


2015_12image_12_51_506126956note-ll


यह अनोखी पहल ‘शून्य रुपए के नोट’ पर आधारित है.  इन दिनों भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ने के लिए यह शून्य रुपए का नोट काफी चर्चा में है. यह नोट 50 रुपए की तरह दिखता है. इस नोट का इस्तेमाल तब किया जाता है जब कोई रिश्वत मांगता है. रिश्वत मांगने वाले को पहले यह नोट पकड़ाया जाता है और फिर उसे गिरफ्तार कर लिया जाता है. तमिलनाडु में काफी लोकप्रिय होने के कारण अब इस युक्ति को दूसरे राज्यों में भी आजमाया जा रहा है.


Read: 49 की उम्र, 23 साल की नौकरी और 45 तबादले, आखिर कसूर क्या है इस आईएएस ऑफिसर का

9 साल पहले इस मुहिम की शुरुआत तमिलनाडु में ‘5th पिलर’ नामक संस्था ने की थी. इस संस्था का कहना है कि अबतक इस नोट को 25 लाख लोगों तक पहुंचाया जा चूका है. इस कारण अब रिश्वत मांगने वाले डरने लगे हैं.


चूकी, इस वक्त आपके हाथ में शून्य रुपय का नोट नहीं है, इसलिए यह बता दूं कि इस नोट पर भारतीय रिजर्व बैंक की जगह ‘भ्रष्टाचार खत्म करो’ लिखा होता है. साथ ही नोट पर 50, 100 या 500 रुपए की जगह मात्र ‘0’ लिखा गया है. इसके अलावा संस्था का फोन नंबर और ईमेल आईडी नोट पर दर्ज रहता है.


Read: जब उधमपुर आतंकी हमले के मास्टरमाइंड को खत्म करने पहुंचा यह ऑफिसर

यदि आप भी यह नोट लेना चाहते हैं तो ‘5th पिलर’ की वेबसाइट से इसे डाउनलोड कर इसका प्रिंट निकाल सकते हैं. इसके अतिरिक्त यह नोट पांच भाषाओं (हिंदी, तमिल, मलयालम, कन्नड़ और तेलुगु) में भी उपलब्ध है. इस नोट के जरिए अब तक हजारों रिश्वतखोरों को हवालात के पीछे भेजा जा चूका है.Next…


Read more:

तो क्या किरण बेदी नहीं थी पहली महिला आईपीएस अधिकारी!

वैश्विक नेताओं की चर्चित तस्वीरें, किसी के चुंबन तो किसी के आलिंगन पर हुआ हो-हो

वोट के बदले हरियाणा के मतदाताओं ने रखी है ऐसी मांग की हर नेता पड़ गया है सोच में



Tags:                           

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

1 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran