blogid : 7629 postid : 959460

नमक के मिसाइलों से इस देश में कराई जा रही है वर्षा

Posted On: 28 Jul, 2015 Others में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

संयुक्त अरब अमीरात अपने संपन्न तेल भंडार के लिए जाना जाता है. अब जिस देश के पास काले सोने यानी कच्चे तेल का इतना भंडार हो तो आधुनिक युग में वह अमीर होगा ही. लेकिन इस संपन्न देश में अगर किसी चीज की कमी है तो वह है पानी की. इस कमी के मद्देनजर इस देश ने अब निर्णय किया है कि वह अपनी धरती के ऊपर से गुजरने वाली बादल की हर बूंद को निचोड़ लेगा. इसके लिए संयुक्त अरब अमीरात एक खास तकनीक का प्रयोग कर रहा है.


uAE



बादलों से बारिश कराने के लिए संयुक्त अमर अमीरात बादलों में नमक के मिसाइल दाग रहा है. इस तकनीक को क्लाउड सीडिंग कहते हैं. क्लाउड सीडिंग मौसम में बदलाव लाने की ऐसी प्रक्रिया है जिसमें बादलों से इच्छानुसार वर्षा कराई जा सकती है. इस तकनीक के द्वारा बादलों में संघनन को बढ़ाया जाता है, इस उम्मीद में कि इससे वर्षा में वृद्धि होगी. गौरतलब है कि संयुक्त अरब अमीरात विश्व के सबसे सूखे देशों में से एक है.


Read: नल से टपकते पानी और धन की बर्बादी का क्या है संबंध


इन नमक मिसाइल को दागने के लिए हवाई जहाज का प्रयोग किया जा रहा है. सबसे पहले अबू धाबी स्थित मौसम विभाग यह पता लगाता है कि किस बादल में बारिश करने की क्षमता है. ऐसे बादल के नजर आते ही नमक से भरे मिसाइल से लदे हवाई जहाज को हवा में उड़ा दिया जाता है. ये जहाज बादलों में इस मिसाइल को दागते हैं. अमूमन यह मिसाइल सिल्वर नाइट्रेट से भरे रहते हैं.



Desert-rain


हालांकि यह तकनीक बेहद विवादित है. पर्यावरण वैज्ञानिक इस तकनीक के प्रयोग पर्यावरण पर प्रतिकूल असर पड़ने की बात करते हैं, इस तकनीक का प्रयोग चीन ने 2008 में बीजिंग ओलंपिक से पहले बारिश कराने के लिए किया था. ताकि आयोजन के समय बीजिंग के आकाश पर छाए बादल बरसे ना. Next….


Read more:

इस देवता के क्रोध से आज भी उबल रहा है यहाँ का जल?

दुश्मन जासूस को नहीं लगेगी कानो–कान खबर, यह तकनीक युद्ध भूमि में सैनिकों के लिए बेहद मददगार साबित हो

5 तकनीक जिनके प्रयोग से आप किसी से भी कुछ भी करवा सकते हैं



Tags:                     

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran