blogid : 7629 postid : 1303

आखिर कैसे गायब हो गया एक पूरा द्वीप?

Posted On: 16 May, 2015 Infotainment में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

बरमूडा ट्राइएंगल नामक द्वीप के बारे में तो हम सभी अच्छी तरह जानते हैं. लोगों का कहना है कि अब तक जो भी उस द्वीप में गया है कभी वापिस नहीं आया. यहां तक कि समुद्र में तैरने वाले जहाज और उस क्षेत्र के ऊपर उड़ने वाले वायुयान भी ना जाने किस तरह अपना मार्ग बदल लेते हैं और ऐसी जगह गुम हो जाते हैं जहां से उनका वापस आना मुनासिब नहीं होता. लेकिन आज हम आपको एक और ऐसे द्वीप के बारे में बताने जा रहे हैं जो दुनिया के नक्शे में तो है लेकिन असल में अगर उस स्थान पर जाओ तो उस द्वीप के कोई अंश भी नजर नहीं आते. इसके विपरीत वैज्ञानिक तो उस द्वीप के होने पर भी प्रश्नचिह्न लगा रहे हैं.


main.sandy-island



ऑस्ट्रेलिया के वैज्ञानिकों ने यह दावा किया है कि गूगल अर्थ और विश्व के नक्शे में जिस सैंडी द्वीप को दिखाया गया है दरअसल उसका कोई अस्तित्व है ही नहीं. प्रशांत महासागर में दिखाए गए सैंडी द्वीप के रहस्य को सिरे से नकारते हुए सिडनी विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों का कहना है कि जब वे भू-अभियान पर निकले तो उन्हें कोई सैंडी द्वीप नजर नहीं आया, वहां सिर्फ नीला महासागर है.



Read - भानगढ़ – सूरज ढलते ही दिखाई देता है खौफनाक मंजर



उल्लेखनीय है कि गूगल अर्थ  पर इस द्वीप को कोरल महासागर में आस्ट्रेलिया और फ्रांस सरकार के न्यू केलिडोनिया के बीच दिखाया गया है.



आखिर क्या रहस्य है इस द्वीप का ?


वैसे इससे पहले यह होता था कि वैज्ञानिक किसी जगह की तलाश करने अभियान पर निकलते थे लेकिन सिडनी विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों ने इससे उलट नक्शे में पहले से मौजूद स्थान के अस्तित्व को नकारने के लिए खोज शुरू की.



हैरानी की बात तो यह है कि सैंडी द्वीप को ना सिर्फ गूगल अर्थ में बल्कि नौसेना और दुनिया के नक्शे में भी दिखाया गया है. लेकिन फिर भी वैज्ञानिकों ने इस द्वीप के होने पर सवाल खड़े कर दिए हैं.


sandy island


इस अभियान का हिस्सा रही डॉक्टर मारिआ सेटॉन का कहना है जब वे वहां पहुंचे तो उन्हें और अन्य वैज्ञानिकों को उम्मीद थी कि वहां जमीन होगी लेकिन जिस स्थान को सैंडी द्वीप कहा जाता है वहां सिर्फ पानी ही पानी था.


Read - मेरे बच्चे में शैतान की रूह है – Real Horror Story in Hindi



मारिया का कहना था कि यह दृश्य देखकर वे सभी आश्चर्यचकित रह गए, क्योंकि पिछले काफी समय से विज्ञान से जुड़े प्रकाशनों में वहां सैंडी द्वीप के होने की बात कही जाती रही है.



Read - इस उम्र में भी सेक्स की चाहत है जनाब


आस्ट्रेलिया के हाइड्रोग्राफिक सर्विस(जलमाप चित्र सेवा) के अनुसार यह मानवीय भूल का नतीजा हो सकता है जिसे साल दर साल दोहराया गया हो.



लेकिन ऑस्ट्रेलिया के वैज्ञानिकों द्वारा हुई इस खोज ने अचंभित कर दिया है कि अगर वहां द्वीप था ही नहीं तो क्यों उसे नक्शे में उकेरा गया था और अगर द्वीप है तो फिर वैज्ञानिक इसे नकार क्यों रहे हैं? कारण चाहे कोई भी हो लेकिन सच यही है कि सैंडी द्वीप के रहस्य को सुलझाने के स्थान पर वैज्ञानिकों ने इस रहस्य को और गहरा दिया है...Next


Read More:

एक रहस्य जो वर्षों से इस मंदिर के छठें तहखाने में कैद है…

चादर नहीं सिगरेट और शराब चढ़ती है इस मजार पर… जानिए क्या रहस्य है इस मजार का

गुजरात के पास समुद्र में वैज्ञानिकों ने खोजा समुद्रमंथन में प्रयोग हुआ पर्वत





Tags:                 

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (2 votes, average: 4.50 out of 5)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran