blogid : 7629 postid : 727605

ये हैं मृत्यु से पहले के संकेत

Posted On: 6 May, 2015 Religious में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

हम सभी इस बात को अच्छी तरह जानते और समझते हैं कि जिसने इस दुनिया में कदम रखा है वह एक ना एक दिन इस दुनिया को अलविदा जरूर कहेगा. इंसानी जीवन कितना ही अस्थिर क्यों ना हो इसकी सबसे बड़ी हकीकत है मौत, लेकिन फिर भी मृत्यु एक ऐसा शब्द है जिसे सुनकर शरीर में अजीब सी सिहरन महसूस होने लगती है. कोई कितना ही ताकतवर या धनवान व्यक्ति क्यों ना हो, मौत, एक ऐसा भय है जो अच्छे-अच्छों की नींद उड़ा देता है. किसी इंसान की मौत कैसे होगी, कब होगी, ये बात कभी कोई नहीं जान सका, लेकिन आज हम आपको मृत्युपूर्व होने वाले कुछ ऐसे आभासों के बारे में जरूर बताने जा रहे हैं जिन्हें जानने के बाद आपको ये अंदाजा हो जाएगा कि किस व्यक्ति की मौत कितनी निकट है.


death


जैसे-जैसे समय बीतता जाता है वह व्यक्ति अपनी नाक को देख पाने में असमर्थ महसूस करता है जिसकी मौत उसके निकट होती है. ऐसा इसलिए होता है क्योंकि मृत्यु से कुछ समय पहले व्यक्ति की आंखें ऊपर की ओर मुड़ने लगती हैं:


dead



मृत्यु से कुछ समय पहले व्यक्ति को आसमान के चांद में दरार या फिर वो खंडित नजर आने लगता है:



the broken moon



सामान्यतौर पर अगर हम अपने दोनों कानों को हाथ से बंद कर लेते हैं तो हमें कोई आवाज सुनाई देती है लेकिन जिस व्यक्ति की मौत नजदीक होती है उसे सिर्फ सन्नाटा महसूस होता है:



hands on ears



मृत्यु का समय नजदीक आने पर व्यक्ति की परछाई तक उसका साथ छोड़ देती है. यहां तक कि तेल, पानी में भी व्यक्ति को अपनी छाया नजर नहीं आती



shadowless




जब किसी व्यक्ति का समय पूरा हो जाता है तो उसे अपने मृत परिजनों के साथ होने का एहसास होता है.



dead relative



मृत्यु से 2-3 दिन पहले व्यक्ति को किसी साये का अपने साथ होने जैसा एहसास होने लगता है.



shadow




मृत्यु से कुछ समय पहले व्यक्ति के शरीर में से अजीब सी गंध आने लगती है जिसे मृत्यु गंध कहते हैं.



body



जब व्यक्ति को आइने में अपना नहीं किसी और का चेहरा नजर आने लगे तो समझ जाइए उसका अंत समय बहुत निकट है. उसकी मौत 24 घंटे के भीतर हो सकती है.



mirror




भगवान शिव ने भी मृत्यु के कुछ संकेत बताए हैं. जब व्यक्ति का शरीर पीला, सफेद या हलका लाल हो जाए तो समझ जाना चाहिए कि व्यक्ति की मौत 6 महीने के भीतर हो जाएगी.



death bed



मृत्यु से करीब 6 माह पहले व्यक्ति की नाक, मुंह, जीभ आदि पत्थर की तरह कड़े हो जाते हैं.



five senses



व्यक्ति चांद, सूरज की रौशनी को देख पाने में अक्षम हो जाए या उसे हर जगह आग का भ्रम होने लगे तो वह व्यक्ति सिर्फ 6 माह का मेहमान है.



fire in the sky



मृत्यु से पहले व्यक्ति के मसूढ़े और दांतों में से पस निकलने लगती है.


swollen tongue



सितारों की भीड़ में एक ध्रुव तारा होता है, आमतौर पर उसे आसानी से देखा जा सकता है लेकिन अगर व्यक्ति की मौत निकट हो तो उसे ध्रुव तारा दिखाई नहीं देता और उसके लिए आसमान एकदम लाल हो जाता है.


Real Horror Stories in Hindi: खेलने को मजबूर कर देती हैं वो आत्माएं


pole star



सपने में उल्लू या उजड़े हुए गांव का दिखना मृत्यु के निकट होने का संकेत है.


owl




Read More:

क्या है श्रापित कोहिनूर का राज ?

भानगढ़ – सूरज ढलते ही दिखाई देता है खौफनाक मंजर

ऐसी दैवीय शक्तियां जिन्हें विज्ञान भी नहीं समझ पाया!!




Tags:                 

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (9 votes, average: 3.67 out of 5)
Loading ... Loading ...

7 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Sachin Dhama के द्वारा
May 7, 2015

में नहीं जनता की सच क्या है, या झूट क्या है पर किसी की मृत्यु और जनम साइंस पर आधारित नहीं है. ये सब उस ऊपर वाले के हाथ में है.

sunil के द्वारा
May 6, 2015

ऐसा क्या terrist attack , Natual disaster , Crime और Accident के time पर महसूस होता है क्या. जब ये इंसान के लिए unaccepted condition होती है. बाकि तो बीमारी से लड़ते हुए तो मरीज़ को अपना अंदाजा हो ही जाता है. चाहे जो age group हो.

Nitin Dev Sharma के द्वारा
May 6, 2015

Ekdam bakwas h ye sab,,,, kisi admi ki parchhayee usko kese chhod skti h n seeshe me dusre ka chehra dhikhna ,,,it’s totally wrong…

ARMAN ALAM के द्वारा
May 6, 2015

mujhe nahi lagta hai ki satya hai… ki sapne me ullu ana. parchhai sath chod dena. aine apna sakal dikhai na dena ye sab bakwash hai… ye vaigyanik tarike se sahi nahi hai. agar sapne me kutta aye to kiya hota hai.. its not truth……

lakhbirajit के द्वारा
June 17, 2014

मैं यह पूछना चाहता हूँ की जो आपने मृत्यु के पूर्वाभास बताएं है इनका वैज्ञानिक तथ्य क्या है, क्या आप किसी ऐसे शख्श के बारे में बता सकते हैं जिसको यह पूर्वाभास हुए हों

SHAQIR ALAM के द्वारा
April 6, 2014

74cL

    Sachin Dhama के द्वारा
    May 7, 2015

    में नहीं जनता की सच क्या है, या झूट क्या है पर किसी की मृत्यु या किसी का जनम किसी साइंस पर आधारित नहीं है ये सब उस ऊपर वाले के हाथ में है


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran