blogid : 7629 postid : 879267

सुहागरात में दूध पीने का ये है कारण

Posted On: 1 May, 2015 Others,Contest में

Chandan Roy

  • SocialTwist Tell-a-Friend

शादी-विवाह का अहम और आखिरी पड़ाव सुहागरात होता है. इसी आखिरी पड़ाव के बाद नवविवाहित जोड़े गृहस्थ जीवन में प्रवेश करते हैं. नवविवाहित जोड़े अपनी सुहागरात को लेकर कई तरह के सपने मन में बसा कर रखते हैं. इस समय को स्पेशल बनाने के लिए नवविवाहित जोड़ा कई तरह की कोशिशें करता है जैसे इस रात को दूध से भरा ग्लास पीना एक जरूरी रस्म माना जाता है. आइए जानते हैं कि क्यों दूध से भरा ग्लास सुहागरात में फायदेमंद होता है?



milk-glass-first-night

यदि आपकी शादी हो गई है तो आपको अपनी सुहागरात में दूध से भरा ग्लास पीने का सौभाग्य जरूर मिला होगा, और यदि आप कुंवारे हैं तो फिल्मों और टेलीविजन सीरियल में सुहागरात में दुल्हन को दूल्हें के लिए दूध का ग्लास लाते जरूर देखा होगा. हिन्दू धर्म में यह परंपरा बेहद प्रचलित है पर इस परंपरा की शुरूआत कब हुई इस पर संशय है.



Read: लड़की ने की लड़की से शादी और दोनों ने दिया बच्चे को जन्म


साधारण नहीं विशेष दूध होता है

सुहागरात में नवविवाहित के लिए खास तरह से दूध को तैयार किया जाता है. यह दूध कई तरह के तत्वों से बना होता है. विशेष रूप से तैयार यह दूध नव जोड़ों के लिए गुणकारी होता है. इस परंपरा के पीछे वैज्ञानिक कारण भी है.



53



दूध को तैयार करने की विधि

इस दूध में केसर, हल्दी, चीनी, काली मिर्च पाउडर, बादाम और सौंफ मिलाई जाती है. ये सभी चीज़ें मिलाकर दूध को उबाला जाता है और फिर गुनगुना गर्म दूध दूल्हे को दिया जाता है.  दूध में मिठास के लिए चीनी न डालें, मीठा दूध कफ का कारण हो सकता है. चीनी मिलाकर पीने से कैल्शियम नष्ट होता है. इसमें प्राकृतिक मिठास होती है. अगर मीठे की जरूरत हो, तो शहद, मुनक्का या मिस्री डालें.


Read:  फेसबुक के जरिए पिता-पुत्री में हुआ प्यार अब करना चाहते हैं शादी


किस तरह दूध गुणकारी होता है

शादी की पहली रात दूल्हे को दिये जाने वाले इस खास दूध में काली मिर्च और बादाम मिलाए जाते हैं. जब दूध को उबाल दिया जाता है तो इनसे कुछ ऐसे तत्व निकलते हैं जो पार्टनर के साथ शारीरिक संबंध बनाने की इच्छा को प्रबल करते हैं. इस कारण नवदंपत्ति के संबंध बेहतर बनते हैं.



kesar-badam-doodh



दूध के बहाने

पहले ज्यादातर ऐसा होता था कि दूल्हा और दुल्हन शादी से पहले एक दूसरे से अंजान होते थे. इस वजह से शादी की पहली रात दूल्हा-दुल्हन काफी नर्वस रहते थे. दूध के बहाने दोनों में बातचीत का सिलसिला आगे बढ़ जाता था. जिससे नर्वसनेस कम हो जाती थी. मान्यता है कि एक ही ग्लास से दूध पीने से प्यार बढ़ता है.


दूध नहीं दवा है

हल्दी काली मिर्च और सौंफ से युक्त यह दूध कई गुणों से परिपूर्ण होता है. उपरोक्त तत्वों से युक्त दूध में एंटी बैक्टीरियल और प्रतिरक्षा बढ़ाने वाले तत्व मौजूद होते हैं. जब कोई पहली बार शारीरिक संबंध बनाता है, तो इंफेक्शन होने का काफी खतरा बना रहता है. ये खास दूध प्रतिरक्षा बढ़ाकर ये जोखिम कम कर देता है.Next…


Read more:

शादी के बीच में पहुँची दुल्हन की बेटी और रो पड़े मेहमान

क्यों महिलायें लगाती है शादी के समय इत्र…..जानिये 16 श्रृंगारों का है पौराणिक महत्व

यहां अपने भाई के लिए दुल्हा बनकर बहन करती है दुल्हन से शादी



Tags:             

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (2 votes, average: 3.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran