blogid : 7629 postid : 790581

कभी सबको सलाम ठोंकने वाला चौकीदार बन गया कलेक्टर

Posted On: 29 Sep, 2014 Infotainment में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

भौतिक सुख-सुविधाओं के हम आदी हो चुके हैं. और इसी ने हमें आलसी बना दिया है. निजी कंपनी में नौकरी करने वाले लोग अक्सर यह कहते हुए पाए जाते हैं कि यार कंपनी बहुत काम लेती है. 9 घंटे की नौकरी…… 10 घंटे की नौकरी…. सारा समय ऑफिस में निकल जाता है……. ……ब्ला…ब्ला.  पर इस खबर को पढ़ने के बाद शायद आप ये फिर कभी ना कह पाएंगे.



chokidar ias



14 वर्षों से सिक्युरिटी गार्ड की नौकरी कर रहे एक युवक ने अपने दूसरे प्रयास में भारतीय प्रशासनिक सेवा की परीक्षा पास कर ली. युवक शादीशुदा और बाल-बच्चेदार है. उड़ीसा के रहने वाले इस युवक का नाम जोति रंजन बागरती है. बागरती ने उस परीक्षा को पास कर दिखाया है जिसे पास करने के लिए विद्यार्थी दिल्ली, मुंबई, पटना जैसे नगरों में अपनी जिंदगी के 5 से 10 वर्ष झोंक देते हैं. दस वर्ष पहले अपने पहले प्रयास में असफल होने के बाद वो पिछले दो वर्षों से इस परीक्षा की तैयारी कर रहा था. अभी मदुरै में उसका प्रशिक्षण चल रहा है.



Read: यह फूल दूर से तो लुभाएगा पर पास जाओगे तो भगाएगा



भारत में कई ऐसे व्यक्ति हुए हैं जिन्होंने अभावों से जूझते हुए असाधारण सफलता हासिल की है. इससे पहले भी अभावों में जूझते हुए रिक्शा चालक के बेटे गोविंद जायसवाल ने भारतीय प्रशासनिक सेवा की परीक्षा पास की थी. जम्मू-कश्मीर के सोपोर क्षेत्र के एक दुकानदार के बेटे बशीर अहमद भट्ट भी सिविल सेवा परीक्षा पास कर सुर्शियों में आए थे. इन गुदड़ी के लालों की जीवटता से सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी कर रहे युवाओं में उर्जा और उमंग का संचार होता है. इससे समाज में सकारात्मक संदेश जाता है जिससे कई लोगों को प्रेरणा मिलती है.



Read more:

निकला था इंटरनेट पर प्यार ढूंढ़ने पर अफसोस जेब पर चूना लग गया…

रोमांटिक नॉवल से भी ज्यादा रुमानी है इनकी रियल लाइफ लव स्टोरी

ये क्या, पूरे परिवार को परेशान करने वाली डॉल को 200 डॉलर में खरीद लिया गया, पढ़िए बेहद चौंकाने वाली घटना



Tags:                   

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 3.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

1 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

mhavirnagar के द्वारा
October 29, 2014

हर असपलता मैएक सपलताअ अ्वशय िमलती है


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran