blogid : 7629 postid : 779293

11 साल के बच्चे ने आइंस्टीन और हॉकिंस को आईक्यू के मामले में पछाड़ दिया... पढ़िए कुदरत का एक और चमत्कार

Posted On: 1 Sep, 2014 Contest,Infotainment में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

आईक्यू लेवल को बुद्धिमत्ता का पैमाना माना जाए तो 11 साल का एक स्कूल जाने वाला लड़का एल्बर्ट आइंस्टीन और स्टीफन हॉकिन्स जैसे महान वैज्ञानिक और बिल गेट्स जैसे तकनीकी विशेषज्ञ को भी मात देता है. रमरनी विल्फ्रेड मात्र 11 साल का एक अश्वेत बालक है पर आईक्यू स्कोर में उसने आइंस्टीन और हॉकिन्स जैसे वैज्ञानिकों को पछाड़ दिया.


ram


हॉकिन्स, आइंस्टीन और माइक्रोसॉप्ट के संस्थापक बिल गेट्स, सभी के आईक्यू स्कोर 160 है जबकि रमरनी ने इन सबको पछाड़ते हुए 162 का आईक्यू का स्कोर हासिल किया है. रमरनी की इस उपलब्धि की बदौलत उसे मेन्सा की मेंबरशिप दी गई है. मेन्सा उच्च आईक्यू वाले व्यक्तियों की विश्व की सबसे बड़ी सोसाइटी है. ब्रिटेन का यह बालक देश के उच्चतम एक प्रतिशत आईक्यू वाले व्यक्तियों की जमात मे शामिल हो गया है.


Read: यहां हर दूसरा बच्चा ‘एक्स्ट्रा’ है जिसकी किसी को जरूरत नहीं, पढ़िए सड़कों पर बिलखते हजारों नवजात बच्चों की मार्मिक हकीकत


एक इंटरव्यू में रमरनी ने विनम्रता से कहा “मैं खुद की इन महान लोगों के साथ तुलना नहीं कर सकता. इनके काम ने यह साबित किया है कि ये ही असली जीनियस हैं.”

हालांकि रमरनी की मां एंथिया अपने बेटे की उपलब्धि से आश्चर्यचकित नहीं हैं. वे कहती हैं “ तीन साल की उम्र में ही रमरनी ने लिखना-पढ़ना सीख लिया था और तब भी उसकी पसंदीदा किताब इनसाइक्लोपीडिया थी.”


iq 2


रमरनी फिलहाल खुद को 11 साल का एक साधारण लड़का मानते हैं. वे कहते हैं कि उन्हें इस बात का गर्व है कि उनकी मां और उनकी बहने उनपर नाज करती हैं. रमरनी का मानना है कि उनका असली जीनियस वाला क्षण शायद तब आए जब वे बड़े हो जाएंगे.


Read: एक साधारण से बालक ने शनि देव को अपाहिज बना दिया था, पढ़िए पुराणों में दर्ज एक अद्भुत सत्य


पिछले साल गोरेपन पर लिखे एक निबंध के बदौलत रमरनी को ऑक्सफोर्ड युनिवर्सिटी से स्नातक की मॉक डिग्री मिली थी. रमरनी की काबीलियत को देखते हुए उनके स्कूल प्रशासन ने उनका दखिला ऊंचे दर्जे में करने का प्रस्ताव रखा था जिसे उनकी मां एंथिया ने अस्वीकार कर दिया. एंथिया चाहती हैं कि रमरनी अपनी उम्र के अन्य बच्चों के साथ ही बड़ा हो.


iq


37 साल की एन्थिया कहती हैं “ रमरनी अभी छोटा बच्चा है और वह सभी काम करता है जो उसके उम्र के बच्चे करते हैं. वह वैज्ञानिकों के बारे में और अंतरिक्ष के बारे मं जरूर पढ़ता रहता है लेकिन उसे डिज्नी चैनल देखना और कॉमिक्स पढ़ना भी पसंद है.”

मेन्सा का सदस्य होने के नाते रमरनी को अब उन कार्यक्रमों में बुलाया जाएगा जिसमें विश्वभर के उच्चतम आईक्यू वाले लोग भाग लेंगे. मेन्सा का मानना है कि रमरनी में भविष्य की काफी संभावनांए छुपी हैं.

रमरनी विल्फ्रेड  बड़े होकर अंतरिक्ष वैज्ञानिक बनना चाहते हैं.


Read more: एक असहाय पिता की गुहार इंटरनेट भी अनसुना नहीं कर पाया और उसकी मरी हुई बेटी के चेहरे पर मुस्कान ला दी…

मरने के बाद वो फिर लौट आए….पढ़िए ऐसे लोगों की कहानी जिन्होंने मरने के बाद भी मौत को गले नहीं लगाया

उसने कहा “मैं तुम्हारे 100वें जन्मदिन पर तुमसे शादी करूंगी”..और दीवानों की तरह वह उस दिन का इंतजार करता रहा. एक रोमांचक लव स्टोरी



Tags:                       

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (2 votes, average: 4.50 out of 5)
Loading ... Loading ...

1 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Anil bhandari के द्वारा
September 2, 2014

its great work of the child


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran