blogid : 7629 postid : 761910

आज भी एक घर में दफ्न है उसकी दर्दनाक मौत की कहानी, पढ़िए लंदन के इतिहास में दर्ज एक रोंगटे खड़े कर देने वाली घटना

Posted On: 8 Jul, 2014 Others,Infotainment में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

25 जनवरी 2006, लंदन की पुलिस एक घर में दाखिल हुई और दरवाजा खोलने के बाद जब वे कमरे में गए तो उन्होंने कुछ ऐसा देखा जो दिल दहलाने वाला था. यदि आप भी वहां होते तो शायद…


ये कहानी एक ऐसी लड़की की है जो सुंदर थी, स्वच्छंद थी और सबसे बड़ी नारी सशक्तिकरण की निसाल थी. लेकिन फिर ऐसा क्या हुआ कि वो धीरे-धीरे एक भीड़ में खो सी गई, एक अनजान ग़म में इस कदर गायब हो गई कि उसे कोई ढूंढ़ ही ना पाया.



dreams_03cf



जॉयस विंसेंट, वर्ष 2006 में इस नाम ने लंदन की हर छोटी-बड़ी अखबार में सुर्खियां बटोरी थी और वो भी एक ऐसे कारण से जिसने लोगों के सामने एक कठिन सवाल खड़ा कर दिया था और वो यह कि ‘आखिर ये सब हुआ कैसे?’ इस आम लड़की ने जीते जी तो नहीं लेकिन मरने के बाद दुनिया के सामने एक अनहोनी बयां कर दी. उस बंद कमरे में मिली उसकी लाश की कहानी लंदन के इतिहास में दर्ज हो गई.



कौन थीं जॉयस विंसेंट


जॉयस विंसेंट का जन्म 15 अक्तूबर, 1965 में हुआ था, वो लंदन के फुल्हम पैलेस रोड पर रहती थी. जॉयस के पिता, जो कि एक अफ्रिकन थे, पेशे से बढ़ई थे और उसकी मां एक हिन्दुस्तानी थी. जॉयस केवल 11 साल की थी जब उसकी मां का एक ऑपरेशन के बाद देहांत हो गया और फिर वर्ष 2001 में उसके पिता का भी निधन हो गया.



joyce



जॉयस ने अपनी पढ़ाई लंदन में ही की और उसके बाद वर्ष 1985 में उसने लंदन में ही ओसीएल नाम की एक कंपनी में बतौर सचिव नौकरी कर अपने कॅरियर की शुरुआत की. इसके बाद जॉयस ने दो और कंपनियों में काम किया और फिर वह अर्नस्ट एंड यंग नाम की कंपनी में काम करने लगी लेकिन ताज्जुब की बात यह है कि जॉयस ने बिना किसी कारण कंपनी छोड़ दी.


Read More:  आप की शक्ल भी इनमें से किसी एक से जरूर मेल खाती होगी, जानिए कौन है आपका हमशक्ल


कुछ तो बात थी जो वो परेशान थी


अर्नस्ट एंड यंग से बिना किसी कारण नाता तोड़ने वाली जॉयस ने फिर एक होटल में बतौर क्लीनर नौकरी की. उसके परिवारवालों का कहना है कि जॉयस उनसे बहुत कम बात करती थी और धीरे-धीरे उसने सभी रिश्ते छोड़ने शुरु कर दिए, वो बिलकुल गायब हो गई थी.



newspaper



जॉयस के बारे में यह भी कहा जाता है कि शायद वो घरेलू हिंसा का शिकार थी. उसकी सगाई हो चुकी थी और शायद जल्द ही शादी भी होने वाली थी लेकिन फिर भी वो किसी कारण से परेशान थी और उसने खुद को अपने घर की चार दीवारी में बंद कर लिया था.


Read More: इंसान को भी जानवर बना देती है पूर्णमासी की रात, जानिए इस खौफनाक रात के पीछे छिपा रहस्य


उसकी मौत एक राज थी और राज ही रह गई


फरवरी, 2003 जॉयस ने वुड ग्रीन शॉपिंग सिटी के एक घर में पनाह ली और वहीं अपनी एक अलग दुनिया बसा ली. सूत्रों के मुताबिक नवंबर 2003 में जॉयस को पेप्टिक अल्सर की वजह से खून की उल्टी हुई थी जिस कारण उन्हें 2 दिन तक अस्पताल में भर्ती भी होना पड़ा था.



joyce 2



जॉयस अस्थमा की मरीज थी और उसकी मौत का यह भी एक कारण हो सकता है लेकिन फिर भी डॉक्टर इस बात का पक्का सबूत नहीं दे पाए हैं. इसके अलावा जॉयस के पेप्टिक अल्सर को भी उसकी मौत के कारणों में गिना गया है.



और जब वो दरावाजा खुला तो…


25 जनवरी 2006, उस दिन लंदन की पुलिस जॉयस के उस घर में दाखिल हुई. दरवाजा खोलते ही बेहद बदबूदार गंध थी जिसे झेलना एक इंसान के बस की बात नहीं. दरवाजा खोलने पर टीवी के चलने की आवाज आ रही थी जैसे कोई घर के अंदर बैठकर टीवी देख रहा हो लेकिन कुछ और आगे चलने पर उन्होंने जो देखा उसे देखने के बाद किसी के भी पैरों तले जमीन खिसक सकती है.


सोफे पर पड़ा वो कंकाल मानो ऐसा था जैसे किसी ने बड़े पयार से उसे उस जगह पर बैठाया हो. वो किसी और का नहीं बल्कि जॉयस का कंकाल था जो पिछले 3 साल से वहां सड़ रहा था.



skeleton



Read More:  सुनसान रात में एक दोस्त की मदद करने पहुंचा था वो, लेकिन उसके साथ जो हुआ वो शायद कल्पना से भी इतर था


जांच में यह सामने आया कि जिस समय जॉयस की मौत हुई वो दिसंबर का महीना था और क्रिसमस करीब था. उसके कंकाल के आसपास पड़े तोहफे इस बात का संकेत दे रहे थे कि वो उन्हें किसी को देना तो चाहती थी लेकिन दे नहीं पाई. उस रात वो शायद सोफे पर बैठकर टीवी देख रही थी और फिर अचानक वो वहीं बैठी-बैठी मर गई.


तीन साल तक उस सोफे पर उसका शरीर वैसा ही पड़ा रहा. ताज्जुब की बात तो यह है कि तान साल तक टीवी भी चलता रहा. इसका कारण मकानमालिक ने जॉयस के अकाउंट से सीधे ही पैसों का समय से भर जाना बताया जिस कारण घर में बिजली नहीं कटी लेकिन जब पैसे खत्म हुए तो उन्होंने जॉयस को ढूंढा.



कैसे कोई तीन साल तक इस तरह गायब रह सकता है


जॉयस की कहानी सुनकर हमें इस बात पर हैरानी होती है कि कैसे तीन साल तक किसी को पता नहीं चला कि जॉयस कहां है!! उसका वो मृत शरीर या यूं कहें केवल एक कंकाल इस दशा में था कि उसे पहचानना नामुमकिन था. जॉयस के दांतों से डॉक्टरों ने इस बात कि पुष्टि की कि वो जॉयस विंसेंट का ही कंकाल है.



dustonradiocassette_low


Read More: छ: हजार साल पुराने प्रेमी जोड़े का ‘किस’, वीडियो देखने से पहले दिल थाम लीजिएगा


जॉयस के मरने के बाद पुलिस उसके मंगेतर का भी पता नहीं लगा पाई. उसके मरने का कारण भी एक बहुत बड़ा सवाल है जिसे खोज पाना पुलिस व डॉक्टरों के लिए एक चुनौती बन गया. आजतक उसकी मौत एक राज है और शायद हमेशा के लिए राज ही रह जाएगी.



‘ड्रीम्स ऑफ लाइफ’ फिल्म से जानिए जॉयस को


जॉयस की विचित्र मौत से प्रेरित हो हॉलिवुड में एक फिल्म बनाई गई जिसका नाम है ‘ड्रीम्स ऑफ लाइफ’. इस फिल्म में जॉयस को समझदार, आत्मविर्भर व सामाजिक रूप से सक्रिय बताया गया है. यदि आप भी करीब से एक नाटकीय रूप में जॉयस को जानना चाहते हैं तो यह फिल्म आपकी कुछ मदद कर सकती है.


Read More:  जानना चाहेंगे इस सबसे पुरानी पहाड़ी का रहस्य जहां सबसे पहले च्यवनप्राश की उत्पत्ति हुई


आखिर क्यों मरने से पहले अपनी ही कब्र को शाप दिया था विलियम शेक्सपीयर ने, शेक्सपीयर के डर की एक हैरान कर देने वाली कहानी


अपने बारे में जानने के लिए कर रहे हैं आमंत्रित ‘दूसरी दुनिया के लोग’, क्या आप जाना चाहेंगे



Tags:                                                                       

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (3 votes, average: 4.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

1 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

rahul kumar के द्वारा
July 16, 2014

Kiya ajib dasta he ye


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran