blogid : 7629 postid : 757160

पानी की तरह बह रहा ‘सोना’ क्यों बन गया दहशत का सबब, जानिए मनहूसियत के साये में जीते एक इलाके की दास्तां

Posted On: 21 Jun, 2014 Others में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

बचपन में आपने वो कहानी तो सुनी ही होगी जब एक राजा को वरदान मिलता है कि जिस चीज को वो हाथ लगाएगा वो सोना हो जाएगी. वह अमीर तो बन गया लेकिन इस चक्कर में ना तो कुछ खा पाता था और ना ही कुछ पी पाता था क्योंकि सब तो सोना बन जाता था, यहां तक कि उसका अपना बेटा तक सोना बन गया था.



जरा सोचिए आपके घर में एक ऐसा नलका हो जिसमें से पानी नहीं बल्कि सोना बहता हो तो आप क्या कहेंगे?



हो सकता है आप अपने सपनों की दुनिया में खो गए हों, लेकिन जनाब सपनों तक तो ठीक है लेकिन असल में ये सब बहुत भारी पड़ सकता है क्योंकि नलके में से सोना टपकने लगा तो आप प्यासे ही रह जाएंगे.


gold

व्हाइट हॉल (मॉंटाना), अमेरिका के बाशिंदे आजकल दहशत के माहौल में जी रहे हैं क्योंकि जिस पानी को वो पीते हैं उसमें सोना मिला हुआ है और उन्हें डर है कि कहीं ये जहरीला ना हो.



YouTube Preview Image



कपड़े धोते समय, पीने का पानी भरते समय, हर टाइम वहां के निवासियों के घर में नलके में से सोना और अन्य भारी धातु निकलती हैं, जिसे देखकर पहले तो वो काफी खुश हुए लेकिन बाद में जब उन्हें एहसास हुआ कि इस पानी को पीना उनके लिए घातक सिद्ध हो सकता है तब उन्हें ये सोना भी मनहूस लगने लगा.


Read: 15000 चूहे पैदा कर सकने वाली एरिक की अजीबोगरीब कहानी, आखिर कैसे बनी वह ‘रैट गर्ल’


असल में इस स्थान के पास एक गोल्ड माइन है जिसमें कुछ समय पहले आग लग गई थी. जानकारों का कहना है कि गोल्ड माइन की पाइप शायद पानी की पाइप से जुड़ गई है इसलिए पानी में सोना मिश्रित हो गया है.


Read More:

“मुझे उसकी झुर्रियां बहुत पसंद हैं और हम एक-दूसरे के बहुत करीब भी हैं”, एक विचित्र प्रेमी जोड़े की अविश्वसनीय कहानी

लंदन के विनाश का कारण बन सकता है एक कौवा

आत्महत्या के लिए प्रेरित करती है ये इमारत, जानिए क्या है बिल्डिंग का रहस्य और क्यों लोग यहां मरने आते हैं




Tags:                 

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran