blogid : 7629 postid : 752581

गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स में दर्ज़ है हनुमान जी का यह मंदिर, जानिए खासियत

Posted On: 10 Jun, 2014 Others में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

भिन्न-भिन्न मान्यताओं वाले देश भारत की सबसे बड़ी खूबी यही है कि यहां सभी धर्मों को बराबर आदर और सत्कार दिया जाता है. हिन्दू धर्म की बात करें तो सैकड़ों देवी-देवताओं के चमत्कारों के ईर्द-गिर्द घूमते इस धर्म के अनुयायियों की मान्यताएं बहुत अलग-अलग हैं. कोई किसी भगवान की पूजा करता है तो कोई किसी को अपना आराध्य मानता है. इन्हीं में से एक हैं रामभक्त हनुमान, जिनके चमत्कारों और उनकी कृपा पर विश्वास रखने वालों की कोई कमी नहीं है.



हनुमानगढ़ी मंदिर: यूं तो हनुमानजी को समर्पित कई मंदिर देश और विदेश में निर्मित हैं लेकिन यहां हम जिस मंदिर की बात करने जा रहे हैं उसकी अपनी ही महत्ता है. अयोध्या में स्थित हनुमानगढ़ी मंदिर सरयू नदी के किनारे एक पहाड़ी पर बना हुआ है, जहां पहुंचने के लिए लोगों को 76 सीढ़ियां चढ़कर जाना होता है. इस मंदिर में हनुमान की 6 इंच बड़ी मूर्ति है जो हमेशा फूलों से सजी रहती है.


hanuman garhi


Read: कण-कण में हरि का वास है, अफ्रीका में मिले 6000 साल पुराने इस शिवलिंग को देख विश्वास हो जाएगा आपको


महंदीपुर बालाजी: पवनपुत्र हनुमान के एक अन्य रूप को महंदीपुर बालाजी (राजस्थान) में देखा जा सकता है. यहां मौजूद रामभक्त हनुमान की पत्थर की मूति के नीचे पानी का एक ताल है जिसका पानी कभी खत्म नहीं होता.


mehendipur



सालासर मंदिर: राजस्थान के चूरू जिले में एक छोटा सा गांव है सालासर, वहां स्थित प्राचीन हनुमान मंदिर को सालासर मंदिर के नाम से भी जाना जाता है. इस मंदिर में हनुमान जी की जो मूर्ति है जिसकी मूंछें और दाढ़ी भी हैं. ऐसा कहा जाता है कि एक किसान को खेती करते समय पवनपुत्र हनुमान की यह मूर्ति मिली थी.


hanuman

हनुमान धरा: चित्रकूट के निकट हनुमान धरा नाम की एक छोटी सी जगह है जहां एक पहाड़ के किनारे से सटी हुई हनुमान की बहुत पुरानी मूर्ति है, यहां से बहती हुई पानी की धार पहाड़ से होकर नदी से मिलती है जो महाबली हनुमान के चरणों को छूकर गुजरती है.


hanuman dhara

संकटमोचन मंदिर: बनारस में स्थित संकटमोचन मंदिर हनुमान को समर्पित एक प्राचीन मंदिर है. ऐसा माना जाता है कि स्वयं तुलसीदास ने इस मंदिर का निर्माण करवाया था.


sankatmochan temple



Read: ऋषि व्यास को भोजन देने के लिए मां विशालाक्षी कैसे बनीं मां अन्नपूर्णा, पढ़िए पौराणिक आख्यान


श्रीहनुमान मंदिर: जामनगर (गुजरात) में स्थित यह मंदिर वर्ष 1540 में बनाया गया था और वर्ष 1964 से अब तक यहां लगातार रामधुन गाई जाती है. इस वजह से इस मंदिर का नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स में भी दर्ज है.


hanuman temple


महावीर हनुमान मंदिर: पटना (बिहार) रेलवे स्टेशन के ठीक समीप स्थित हनुमान के इस बेहद प्राचीन मंदिर में चढ़ने वाले दान की संख्या बहुत अधिक है. वैष्णो देवी के बाद इस मंदिर को सबसे ज्यादा चढ़ावा चढ़ता है.

mahavir temple


हनुमान मंदिर: इलाहाबाद किले से सटे हुए इस मंदिर में हनुमान की लेटी हुई मूर्ति है जो 20 फीट लंबी है.


hanuman temple

श्रीपंचमुखी अंजनायर स्वामी जी: तमिलनाडु स्थित इस मंदिर में हनुमान की ऐसी मूर्ति है जिसके 5 सिर हैं.

hanuman




Read More:

लंदन के विनाश का कारण बन सकता है एक कौवा

सांई बाबा हिन्दू थे या मुसलमान? जानिए शिर्डी के बाबा के जीवन से जुड़ा एक रहस्य

एक नवजात बच्चे को खाने की प्लेट में परोसा गया, जानिए एक हैरान करने वाली हकीकत




Tags:                 

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (6 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

3 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Diwakar Jha के द्वारा
December 4, 2014

Jai Bajrang Bali

amit bharti के द्वारा
June 10, 2014

thank you jagr an for keeping us updated

Narendra parmar के द्वारा
June 10, 2014

Jay shree Ram Only Hindu


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran