blogid : 7629 postid : 1315

आखिर क्या थी सलीम और अनारकली की अधूरी प्रेम कहानी की हकीकत

Posted On: 17 Feb, 2013 Others में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

लैला-मजनूं, हीर-रांझा, रोमियो-जूलियट आदि प्रेमी-जोड़ों की प्रेम कहानी सर्वविदित है जो बने तो एक-दूसरे के लिए ही थे लेकिन दुनियावालों ने उन्हें मिलने नहीं दिया. इस बीच एक प्यार की दास्तां ऐसी भी है जिसे सुनते या पढ़ते तो बहुत हैं लेकिन उनकी दर्दभरी कहानी से खुद को जोड़ पाना बहुत से लोगों के लिए मुश्किल है कि क्या वाकई ऐसा हो सकता है या फिर अन्य प्रचलित कथाओं की तरह यह भी मात्र मनगढ़ंत प्रेम कहानी ही है. लेकिन हर लव स्टोरी में अमीरी और गरीबी बहुत बड़ी भूमिका अदा करती है और इस बार सलीम और अनारकली के साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ. सलीम के पिता शहंशाह अकबर को अनारकली और अपने बेटे सलीम का साथ रास नहीं आया और फिर शुरू हुआ दोनों को अलग करने का अंतहीन सिलसिला.


Read - Real Horror Stories in Hindi – काले जादू में बदल गई वो दुश्मनी


सलीम और अनारकली एक दूसरे से बहुत प्यार करते थे. यह प्यार कब और किस कदर परवान चढ़ता गया यह उन दोनों में से किसी को भी समझ नहीं आया. मोहब्बत में डूबे इस प्रेमी जोड़े को शायद यह मालूम ना था कि दुनिया को उनका प्रेम खटक रहा है और उन्हें अलग किए जाने के सारे हथकंडे अपनाए जाने लगे हैं.


Read - नग्न तस्वीर बनवाने का अहसास कैसा होता है?

सलीम को आगे चलकर बादशाह बनना था, मुल्क संभालना था इसीलिए उनके पिता अकबर यह बिल्कुल नहीं चाहते थे कि वो एक कनीज के प्यार में गिरफ्तार होकर अपनी जिम्मेदारियां भूल जाए.


Read - Horror Stories in Hindi – कोई रोता है मेरे पास बैठकर

अकबर को यह बात भी खटकती थी कि अगर सलीम ने मामूली सी कनीज अनारकली से निकाह कर लिया तो वह मल्लिका-ए-हिंदोस्तां बन जाएगी जो मुगल सल्तनत के लिए काफी शर्मसार कर देने वाला होगा.



सलीम को कई बार समझाया गया, धमकाया गया, डराया गया कि वह प्यार-व्यार के चक्कर में ना पड़े लेकिन मोहब्बत कहां किसी की सुनती है. सलीम पर इस बात का कोई असर नहीं हुआ और पहले की ही तरह वह अपने प्यार को अपना बनाकर जीते रहे. लेकिन जब पिता की ज्यादतियां ज्यादा बढ़ गईं तो सलीम ने अपने पिता और उनकी सल्तनत के खिलाफ बगावत कर दी.


Read - Horror Story in Hindi – हर अमावस की रात को आती है वो

पिता के विरुद्ध इस जंग में सलीम को शिकस्त का सामना करना पड़ा. अकबर ने यह शर्त रखी थी कि या तो सलीम अनारकली को उन्हें सौंप दे या फिर खुद मौत को गले लगा ले. प्यार करने वाले मौत से नहीं डरते इसीलिए सलीम ने अनारकली से दूर होने के बजाय मौत के मुंह में जाना बेहतर समझा. लेकिन आखिरी समय में अनारकली ने आकर अपने प्रेमी और शहजादे सलीम की जान बचा ली और खुद को बादशाह अकबर के हवाले कर दिया. जब अनारकली ने उनके सामने समर्पण कर दिया तो बादशाह अकबर ने उसे दीवार में चुनवा दिया और सिसक-सिसक कर एक जिंदा मोहब्बत ने दम तोड़ दिया.


Read - Real Horror Stories in Hindi – गायब द्वीप का रहस्य

बहुत से लोगों का यह भी कहना है कि अकबर स्वयं अनारकली की खूबसूरती के गिरफ्त में थे इसीलिए वह नहीं चाहते थे कि अनारकली का विवाह उनके बेटे और शहजादे सलीम से मुकर्रर हो.


Real Horror Stories in Hindi – क्या वह बस एक डरावना सपना था?

Valentine Day Special – प्रेम कहानी जो कभी भुलाई नहीं जा सकती



Tags: saleem anarkali, saleem love story, anarkali and saleem love story, hindi love stories, akbar and saleem relationships, सलीम अनारकली की प्रेम कहानी , हिन्दी प्रेम कहानियां, अकबर





Tags:                 

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

3 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Jay Mahalwal के द्वारा
June 19, 2016

अकबर अनारकली से पयार करता था ।

bhawana के द्वारा
November 11, 2014

sachcha pyar ek dard bhara meetha ehsas hota hai jo jindgi bhar hamare sath rahata hai is liye pyar karne wale nahi milte hai milne ke bad ehshs nahi rahega bhawna

SHEENU के द्वारा
February 18, 2013

जो सच में एक दूसरे से प्यार करते हैं किसमत उन्हें मिलने नहीं देती


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran