blogid : 7629 postid : 1295

Real Horror Story in Hindi - रात के अंधेरे में भटकती रूहों की दर्दनाक कहानी

Posted On: 22 Jan, 2013 Others में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

भूत-प्रेत, पिशाच, आत्माएं इंसानी दुनिया से अलग-थलग संसार बसाकर ऐसी ही कुछ पारलौकिक ताकतें बिना किसी परेशानी के विचरण करती हैं. जिस तरह जीवित लोगों की दुनिया में इनका प्रवेश वर्जित माना जाता है उसी प्रकार अगर आप और हम किसी भी तरह से उनकी अंधेरों से घिरी दुनिया में कदम रखने की कोशिश करते हैं तो उन्हें यह बात बिल्कुल सहन नहीं होती और वह हमारे इस दुस्साहस का बदला लेने के लिए अपनी सीमाएं तोड़कर इंसानी दुनिया में दखल देने लगते हैं.



Read - भानगढ़ – सूरज ढलते ही दिखाई देता है खौफनाक मंजर


हजारों वर्षों पहले लगे एक तांत्रिक के श्राप से आज भी भानगढ़ का किला जूझ रहा है. पुरातत्व वैज्ञानिकों और राज्य सरकार द्वारा वहां लिखित तौर पर यह चेतावनी दी गई है कि सूर्योदय से पहले और सूर्यास्त के बाद कोई भी व्यक्ति वहां ना तो ठहरेगा और ना ही जाएगा. वहां कुछ तो जरूर होगा.


अब हम आपको भारत के ऐसे दूसरे स्थान के बारे में बताने जा रहे हैं जहां ऐसी ही कुछ भटकती रूहों ने अपना आशियाना बना लिया है. गुजरात की चर्चित दुमास बीच ऐसी ही एक जगह है जहां हर समय मरे हुए लोग विचरण करते हैं.


Read - उसे आज भी वह औरत दिखाई देती है….

हिंदू धर्म में मरने के बाद मृत शरीर का दाह संस्कार किए जाने के बाद ही उसे मुक्ति या मोक्ष की प्राप्ति होती है. अगर किसी भी वजह से उस शरीर का पूरे विधि-विधान के साथ संस्कार ना किया जाए तो शरीर को छोड़ने के बाद भी आत्मा को दुनिया से मुक्ति नहीं मिलती और वह भटकती रहती है.


Read - Real Horror Stories in Hindi – कब्रिस्तान में लगी वो शर्त …

सूरत (गुजरात) के इसी दुमास बीच पर हिंदुओं का दाह संस्कार कर उन्हें इस दुनिया से दूर भेजने की कोशिश की जाती है लेकिन कुछ ऐसी भी आत्माएं होती हैं जो मोह और अत्याधिक लगाव की वजह से इस दुनिया को छोड़कर जा नहीं पातीं. शरीर जलने के बाद भी वह अपने गंतव्य स्थान पर नहीं पहुंच पातीं.


Read - नग्न तस्वीर बनवाने का अहसास कैसा होता है?


दुमास बीच पर ऐसी आत्माएं अपना डेरा जमाए रहती हैं. वहां जितने भी लोग आज तक गए हैं सभी का यही कहना है कि वहां कुछ बहुत अजीब है. ऐसा कुछ जो दिखाई नहीं देता सिर्फ महसूस किया जा सकता है.


दुमास बीच पर जाने के बाद आपको घुटन होने लगती है. हर समय यह महसूस होता है कि कोई आपके आसपास है आपके साथ चल रहा है. बहुत से पर्यटकों का तो यह भी कहना है कि वह जब यहां गए तो किसी ने उनके कान में आगे ना जाने की बात कही. उन्हें चेतावनी दी गई कि वे आगे ना जाएं और जहां से आए हैं वहां वापस चले जाएं.


स्थानीय लोगों के अनुसार रात के समय इस बीच पर जाना पूरी तरहनिषेध है. जितने भी लोग रात के समय यहां गए हैं उनमें से कोई भी वापस नहीं आ पाया है.



Read

पिछले जन्म की यादें क्या आपको भी परेशान करती हैं?

मेरे बच्चे में शैतान की रूह है – Real Horror Story in Hindi

किस खतरे की ओर इशारा है धरती पर एलियन का आना !!



Tags: horror stories in hindi, dumas beach of gujarat, dumas beach of surat, dumas, horror stories in hindi, real haunted places in india, real horror, haunted stories in hindi, हॉरर स्टोरीज, भूत-प्रेत, horror stories in hindi






Tags:                   

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (2 votes, average: 4.50 out of 5)
Loading ... Loading ...

14 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

manish k mony के द्वारा
May 17, 2016

chodu banava ni sckim

UX Designers Delhi के द्वारा
February 18, 2016

488क

jatin के द्वारा
February 18, 2015

me dumas kahi bar gaya hu muje kuch nahi laga… sayad isha kuchbhi nahi he vahape…

mahemud के द्वारा
October 29, 2014

Yes

sandip virani के द्वारा
September 6, 2014

purA fake story hai hai am alos from surat and me is jgha bahut baar gaya hu…muje and na he mere saath aane wale ko kuch bhi nahi hua….guys daro mat kuch nahi hai waha pe acha love point hai enjoy…..

riya makhija के द्वारा
April 29, 2014

ye stories true h kyuki m gujarat m surat m hi rahti hu m jab bhi dumas jati hu muje vesa hi mahsoos hota h jese yaha likha gaya h

abhishek के द्वारा
January 1, 2014

हमे naukari कि जजुरात है मेरी सहायता करो

Simran के द्वारा
March 23, 2013

Nic story

rohit के द्वारा
January 22, 2013

hote hai bhoot

    monika के द्वारा
    November 25, 2016

    i like this type of sroty

tamanna के द्वारा
January 22, 2013

भूतप्रेत नहीं होते. यह मात्र मनगढ़त बाते हैं

    raj के द्वारा
    May 21, 2014

    are yaar, yeh saari baate bilkul sach hai… agar sachchaai jaanni hai to bhangadh(rajasthan) kile me ek raat akele gujaaro our ye jaano ki bhut_pret hote hai ya nahi…. tum sach jaan jaaoge. {raaj}

    rajkumar के द्वारा
    June 12, 2014

    bilkul sahi bat he bhut pret nahi hote he


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran