blogid : 7629 postid : 1281

ऐसी दैवीय शक्तियां जिन्हें विज्ञान भी नहीं समझ पाया!!

Posted On: 4 Jan, 2013 Others में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

विज्ञान और चमत्कारों के बीच कोई ना कोई बहस आए दिन चलती रहती है. जिन चीजों को विज्ञान स्वीकारता है उसे चमत्कार का सिद्धांत नकार देता है और जिन्हें चमात्कार के सिद्धांत सिद्ध करते हैं विज्ञान उन्हें फिजूल करार दे देता है. लेकिन आज हम जिन स्थानों का जिक्र यहां करने जा रहे हैं उसे अगर चमत्कार नहीं कहा जा सकता तो विज्ञान के पास भी इसका कोई जवाब नहीं है. यहां ऐसा क्यों होता है, आखिर क्या कारण है इन गतिविधियों का, अभी तक वैज्ञानिक भी इसका जवाब नहीं ढूंढ़ पाए हैं.


Read - रात के अंधेरे में भटकती रूहों की दर्दनाक कहानी


1. काला डुंगर: गुजरात की यह जगह बेहद रहस्यमयी है. इस सड़क पर जो ढलान है वहां गाड़ी नीचे उतरते हुए तो रफ्तार पकड़ती ही है लेकिन अजीब बात यह है कि ऊपर चढ़ते हुए भी गाड़ी तेज गति से भागने लगती है. विशेषज्ञों ने यह जानने की कोशिश तो की कि ऐसा क्यों हो रहा है लेकिन कोई भी इसके पीछे का रहस्य नहीं समझ पाया.


Read - उसे आज भी वह औरत दिखाई देती है….

2. तुलसीश्याम: गुजरात के गिर जंगल की तरफ जाने वाले मार्ग तुलसीश्याम की भी अजीब कहानी है. गुरुत्वाकर्षण के नियम को नकारती इस सड़क को गुजरात की एंटी ग्रैविटेशनल सड़क भी कहा जाता है. यहां कोई भी गाड़ी या वस्तु नीचे की तरफ नहीं बल्कि ऊपर की ओर चढ़ती है.


3. पहाड़ी का रहस्य: अमरेली स्थित बाबरा शहर से लगभग 7 किलोमीटर दूर करियाणा गांव में एक रहस्यमयी पहाड़ी है. इस पहाड़ी की खासियत यह है कि इस पहाड़ी के प्रत्येक पत्थर में से झालर के बजने जैसी आवाज आती है. इस पहाड़ी पर ग्रेनाइट के महंगे पत्थर काफी मात्रा में मिलते हैं. लेकिन अभी तक कोई भी यह पता नहीं लगा पाया कि इन पत्थरों से आवाज क्यों आती है. पत्थरों में से आने वाली आवाज के पीछे एक धार्मिक मान्यता भी विद्यमान है जिसके अनुसार प्राचीन समय में एक बार यहां स्वामीनारायण भगवान आए थे और पूजा अर्चना के समय इन पत्थरों को घंटी के रूप में प्रयोग किया गया.


4. ठोकर मारते ही नगाड़े बजने लगते हैं: जूनागढ़ (गुजरात) स्थित पवित्र गिरनार के समीप दातार पर्वत के नगरिया पत्थर यहां आने वाले श्रद्धालुओं का केन्द्र है. यहां के पत्थरों की खासियत यह है कि इन पत्थरों को ठोकर मारते ही इसमें से नगाड़े बजने की आवाज आने लगती है. दातार पर्वत गिरनार के दक्षिण में जूनागढ़ से मात्र 2 किमी की दूरी पर स्थित है.


Read - किस खतरे की ओर इशारा है धरती पर एलियन का आना !!


5. टुवा टिंबा: यह स्थान भी गुजरात के गोधरा से लगभग 15 किलोमीटर दूर है. यहां गर्म पानी का एक कुंड है जिसका पानी कभी खत्म नहीं होता. इतना ही नहीं यह पानी सालभर एकदम गर्म रहता है. अब इसके गर्म रहने के पीछे क्या कारण है यह भी अभी तक कोई जान नहीं पाया. इस पानी से स्नान करने के बाद श्रद्धालुओं की यात्रा सफल होती है. पौराणिक कथा के अनुसार पांडव और भगवान राम ने भी इस स्थल की यात्रा की थी. ऐसा भी माना जाता है कि संत सूरदास के उपचार हेतु गर्म पानी के लिए यह जमीन भगवान राम ने खुद भेदी थी जहां से गर्म पानी का प्रवाह शुरू हुआ.


Read

Real Horror Stories in Hindi – कब्रिस्तान में लगी वो शर्त …

आखिर क्या राज है इस भूख के पीछे ….!!

Social Achievements in 2012: समस्याएं ही नहीं कुछ समाधान भी मिले



Tags: horror stories in hindi, hindi news, infotainment in hindi, aliens, gujrat, anti gravity road of gujrat, गुजरात, राम, संत सूरदास, तुलसीश्याम, real horror stories, science fiction.




Tags:                         

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (4 votes, average: 4.75 out of 5)
Loading ... Loading ...

2 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Hardik के द्वारा
January 7, 2014

My horror story I would like to share my experience to all of you That’s the story I was working in Delhi at international call center There was May best friend whose name was satish He was belong from Rajasthan at near abu road his village name Was delder it was famous for spirits so he invited me for his wedding So of course it was a long run so though let me go to his village before three days Ago first I went to Jaipur to meet my friend who will also come with me For join marriage of my friend so he had a car & we started a journey along with each other some time he driven a car or some time by my self Near mid night 2 o’clock our car got some problem it was stop before 15 km of his house We tried to start a car be we un able to success thought now what to do at that time One stranger person came to us & he told us that there will be a garage near 3 km ahead It was dark night but garage owner provide service for 24 hours so at that time my friend told me that so just go ahead and bring any technician to toe our vehicle i thought its okay I just bring out my hands free put in my ears play music I started to walk do 1& half kilometer I did not feeling any thing but & I was going ahead suddenly I felt some one follows me I was little bit scared I walking alone I here a noise of some who calling me stop sir don’t go there I was scared I was running on road & I show there was a beautiful lady in that dark night i asked her who r u she replied I m belong from this village So asked what you doing here in this dark night she said I m going to home from my farm She asked if you don’t mind suppose I m joining you I said that’s ok she asked me for my name I replied I asked for her name she said kavita we walking with each other suddenly what there was very dark & haunted tree right ahead the 3 ladies seating under that tree they all of calling me hey man please come here kavita told me that please don’t consternate on them walk right ahead I said why she said shut your mouth & do as I said. I said ok The tree was coming near & what happen next I was shock suddenly the face of that three ladies has been changed it very scary & haunted I start to chanting hanuman chalisa we were walking fast & finally I show light of that garage & kavita told me that I dropped u at your destination where u wanna go so bye hardik I asked where u going she replied nothing I asked her one more question why you did not scared of that three lady she replied every spirits are not bad you are not going to believe I did not sleep for next three day even I could not close my eyes still I m not believing that I spend near 45 minutes with stranger spirits Still I m not for get that scary or haunted face of that three bad spirits who really wanted to kill me

Harshit Dixit के द्वारा
December 30, 2013

This is very nice, very good, very intrusting and very real … I liked it


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran