blogid : 7629 postid : 958

73 वर्ष की उम्र में पहुंच गई एवरेस्ट पर !!

Posted On: 30 May, 2012 Others में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

बहुत से लोग 40-50 की उम्र में पहुंचते ही खुद को शारीरिक रूप से कमजोर और असहाय समझने लगते हैं. वृद्धावस्था की पहली सीढ़ी पर खड़े होने के साथ ही उन्हें लगता है कि अब तो वह स्वतंत्र रूप से कोई काम नहीं कर सकते. उन्हें अपने बच्चों और परिवारवालों पर आश्रित रहकर ही अपना जीवन व्यतीत करना होगा. इस बात में कोई दो राय नहीं है कि वृद्धावस्था को उम्र का एक ऐसा पड़ाव माना जाता है जिसमें कदम रखते ही शारीरिक और मानसिक दुर्बलता के साथ-साथ निर्भरता का भी अहसास होने लगता है.


Tamae-Watanabeलेकिन जापान की रहने वाली एक 73 वर्षीय महिला ने इस उम्र में एक ऐसा कारनामा कर दिखाया है जो उन लोगों के लिए एक उदाहरण है कि अगर आपने एक बार कुछ करने की ठान ली तो उसमें आपकी उम्र भी बाधा नहीं बन सकती.


उम्र के इस पड़ाव पर पहुंचने के बाद तामाए वातानाबे नाम की इस जापानी महिला ने माउंट एवरेस्ट को फतह कर लिया है और इसके साथ ही वह माउंट एवरेस्ट पर पहुंचने वाली सबसे उम्रदराज महिला बन गई हैं. इस अभियान के आयोजक एशियन ट्रैकिंग के प्रवक्ता ने बताया कि तामाए वातानाबे ने एक अन्य जापानी नागरिक नोरियुकी मुरागुची और तीन शेरपा गाइडों मिंगमा शेरपा, फारू नुनू शेरपा और फूरबा शेरपा के साथ तिब्बत के दक्षिणी मार्ग से 8848 मीटर ऊंचे एवरेस्ट की चोटी पर कदम रखा. अधिकारियों ने बताया कि इस दल ने स्थानीय समयानुसार सुबह सात बजे एवरेस्ट पर विजय पताका फहराई.


यह पहला मौका नहीं है जब वातानबे ने माउंट एवरेस्ट पर कदम रखा है, इससे पहले भी वह 63 साल की उम्र में 2002 में एवरेस्ट फतह कर सबसे बुजुर्ग महिला विजेता का श्रेय हासिल कर चुकी हैं.


उल्लेखनीय है कि एवरेस्ट फतह करने वाले सबसे बुजुर्ग पुरुष नेपाल के मिन बहादुर शेरपा हैं जिन्होंने 77 साल की उम्र में वर्ष 2007 में यह कामयाबी हासिल की थी.


73 वर्ष की आयु में एवरेस्ट के शिखर तक पहुंचकर इस साहसी महिला ने यह साबित कर दिया है कि उम्र किसी को बूढ़ा या कमजोर नहीं बनाती. जब तक कोई मानसिक रूप से खुद को असहाय नहीं समझ लेता वह कोई भी काम कर सकने में सक्षम है.




Tags:                       

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 4.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

1 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

sandeep के द्वारा
May 30, 2012

हौशलों में उड़ान हो तो उम्र से कोई फर्क नही पड़ता. Where there’s a will there’s a way


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran